विस्मृति मुंशी प्रेमचंद की कहानी | Vismriti Munshi Premchand Ki Kahani

विस्मृति मुंशी प्रेमचंद की कहानी मान सरोवर भाग 7 (Vismriti Munshi Premchand Ki Kahani) Vismriti Munshi Premchand Story In Hindi  Vismriti Munshi Premchand Ki Kahani  1 चित्रकूट के सन्निकट धनगढ़ नामक एक गाँव है। कुछ दिन हुए वहाँ शानसिंह और गुमानसिंह दो भाई रहते थे। ये जाति के ठाकुर (क्षत्रिय) थे। युद्धस्थल में वीरता के … Read more

प्रारब्ध मुंशी प्रेमचंद की कहानी | Prarabdh Munshi Premchand Ki Kahani 

प्रारब्ध मुंशी प्रेमचंद की कहानी मान सरोवर भाग 7 (Prarabdh Munshi Premchand Ki Kahani) Prarabdh Story By Munshi Premchand  Prarabdh Munshi Premchand Ki Kahani  1 लाला जीवनदास को मृत्युशय्या पर पड़े 6 मास हो गये हैं। अवस्था दिनोंदिन शोचनीय होती जाती है। चिकित्सा पर उन्हें अब जरा भी विश्वास नहीं रहा। केवल प्रारब्ध का ही … Read more

महातीर्थ कहानी मुंशी प्रेमचंद | Mahateerth Story Munshi Premchand

महातीर्थ कहानी मुंशी प्रेमचंद मान सरोवर भाग 7 (Mahateerth Story Munshi Premchand) Mahateerth Munshi Premchand Ki Kahani  Mahateerth Story Munshi Premchand 1 मुंशी इंद्रमणि की आमदनी कम थी और खर्च ज्यादा। अपने बच्चे के लिए दाई का खर्च न उठा सकते थे। लेकिन एक तो बच्चे की सेवा-शुश्रूषा की फ़िक्र और दूसरे अपने बराबरवालों से … Read more

अमावस्या की रात्रि कहानी मुंशी प्रेमचंद | Amavasaya Ki Raatri Story Munshi Premchand

अमावस्या की रात्रि कहानी मुंशी प्रेमचंद मान सरोवर भाग 6 (Amavasaya Ki Raatri Story Munshi Premchand) Amavasaya Ki Raatri Munshi Premchand Ki Kahani  Amavasaya Ki Raatri Story Munshi Premchand 1 दीवाली की संध्या थी। श्रीनगर के घूरों और खँडहरों के भी भाग्य चमक उठे थे। कस्बे के लड़के और लड़कियाँ श्वेत थालियों में दीपक लिये … Read more

बोध मुंशी प्रेमचंद की कहानी | Bodh Munshi Premchand Ki Kahani 

बोध मुंशी प्रेमचंद की कहानी मानसरोवर भाग 8 (Bodh Munshi Premchand Ki Kahani) Bodh Munshi Premchand Ki Kahani  Bodh Munshi Premchand Ki Kahani  पंडित चंद्रधर ने अपर प्राइमरी में मुदर्रिसी तो कर ली थी, किन्तु सदा पछताया करते थे कि कहाँ से इस जंजाल में आ फँसे। यदि किसी अन्य विभाग में नौकर होते, तो … Read more

मूठ मुंशी प्रेमचंद की कहानी | Mooth Munshi Premchand Story 

मूठ मुंशी प्रेमचंद की कहानी (Mooth Munshi Premchand Story) Mooth Munshi Premchand Ki Kahani  Mooth Munshi Premchand Story डॉक्टर जयपाल ने प्रथम श्रेणी की सनद पायी थी, पर इसे भाग्य ही कहिए या व्यावसायिक सिद्धान्तों का अज्ञान कि उन्हें अपने व्यवसाय में कभी उन्नत अवस्था न मिली। उनका घर सँकरी गली में था; पर उनके … Read more

लाग-डाट कहानी मुंशी प्रेमचंद | Laag Daat Story Munshi Premchand

लाग-डाट कहानी मुंशी प्रेमचंद मान सरोवर भाग 6 (Laag Daat Story Munshi Premchand) Laag Daat Munshi Premchand Ki Kahani  Laag Daat Story Munshi Premchand 1 जोखू भगत और बेचन चौधरी में तीन पीढ़ियों से अदावत चली आती थी। कुछ डाँड़-मेंड़ का झगड़ा था। उनके परदादों में कई बार खून-खच्चर हुआ। बापों के समय से मुकदमेबाजी … Read more

जुगनू की चमक कहानी मुंशी प्रेमचंद | Jugnu Ki Chamak Story Munshi Premchand

जुगनू की चमक कहानी मुंशी प्रेमचंद मान सरोवर भाग 6 (Jugnu Ki Chamak Story Munshi Premchand) Jugnu Ki Chamak Munshi Premchand Ki Kahani  Jugnu Ki Chamak Story Munshi Premchand 1 पंजाब के सिंह राजा रणजीतसिंह संसार से चल चुके थे और राज्य के वे प्रतिष्ठित पुरुष जिनके द्वारा उनका उत्तम प्रबंध चल रहा था परस्पर … Read more

निमंत्रण कहानी मुंशी प्रेमचंद | Nimantran Story Munshi Premchand

निमंत्रण कहानी मुंशी प्रेमचंद मान सरोवर भाग 5 (Nimantran Story Munshi Premchand) Nimantran Munshi Premchand Ki Kahani  Nimantran Story Munshi Premchand पंडित मोटेराम शास्त्री ने अंदर जा कर अपने विशाल उदर पर हाथ फेरते हुए यह पद पंचम स्वर में गाया, अजगर करे न चाकरी, पंछी करे न काम, दास मलूका कह गये, सबके दाता … Read more

पिसनहारी का कुआं कहानी मुंशी प्रेमचंद | Pisanhari Ka Kuan Story Munshi Premchand

पिसनहारी का कुआं कहानी मुंशी प्रेमचंद (Pisanhari Ka Kuan Story Munshi Premchand) Pisanhari Ka Kuan Story Munshi Premchand गोमती ने मृत्यु-शय्या पर पड़े हुए चौधरी विनायकसिंह से कहा —चौधरी, मेरे जीवन की यही लालसा थी। चौधरी ने गम्भीर हो कर कहा —इसकी कुछ चिंता न करो काकी; तुम्हारी लालसा भगवान् पूरी करेंगे। मैं आज ही … Read more