तस्वीर : शिक्षाप्रद कहानी | Tasweer Moral Story In Hindi

एक शहर में एक चित्रकार रहता था. उसकी बनाई हुई तस्वीरें बहुत खूबसूरत हुआ करती थी. एक दिन उसने एक बहुत ही खूबसूरत तस्वीर बनाई और उसे ले जाकर शहर के चौराहे पर टांग दिया. तस्वीर के नीचे उसने लिख दिया कि इस तस्वीर में यदि कोई कमी दिखाई पड़े, तो उस जगह निशान लगा दे. तस्वीर वहीं छोड़कर वह चला गया.

बुरी आदतें शिक्षाप्रद कहानी | Bad Habits Moral Story In Hindi

एक गाँव में एक धनी व्यक्ति अपनी पत्नि और १० वर्ष के पुत्र के साथ रहता था. उसका पुत्र जैसे-जैसे बड़ा होता रहा था, उसमें बुरी आदतें घर करती जा रही थी. समझाने पर वह कहता कि अभी तो मैं छोटा हूँ. जब बड़ा हो जाऊँगा, तो सब छोड़ दूंगा. समझाने का असर न होता देख वह व्यक्ति अपने पुत्र को लेकर गाँव में पधारे एक महात्मा के पास पहुँचा. उसने उन्हें अपनी समस्या बताई और अपने पुत्र को सही मार्ग पर वापस लाने की प्रार्थना की.

क्रोधी बालक शिक्षाप्रद कहानी | The Angry Boy Moral Story in Hindi

एक गाँव में एक लड़का अपने माता-पिता के साथ रहता था. एकलौती संतान होने के कारण वह माता-पिता का बहुत लाड़ला था. उसके माता-पिता उसे चाहते तो बहुत थे, लेकिन उसकी एक आदत के कारण हमेशा परेशान रहते थे. वह लड़का बहुत क्रोधी स्वभाव का था. उसे छोटी-छोटी बातों पर क्रोध आ जाता था और वह तैश में आकर लोगों को भला-बुरा कह देता था.

सड़े आलू शिक्षाप्रद कहानी | Rotten Potatoes Moral Story In Hindi

एक दिन कक्षा में शिक्षक ने घोषणा की कि अगले दिन सभी विद्यार्थियों को एक थैले में आलू लेकर आना है. यह एक तरह का खेल होगा, जिसमें सब अपने साथ लाये आलुओं को उस लड़के या लड़की का नाम देंगे, जिससे वे सबसे ज्यादा नफ़रत करते हैं.

पेंसिल के गुण शिक्षाप्रद कहानी | Pencil Ke Gun Short Moral Story In Hindi

एक दिन एक बालक ने अपनी माँ को पत्र लिखते हुए देखा. वह उसके पास गया और पूछा, “माँ! तुम पत्र में क्या लिख रही हो? क्या तुम मेरी शरारतों के बारे में लिख रही हो?”माँ बालक को देखकर मुस्कुराई और बोली, “हाँ बेटा, लिख तो मैं तुम्हारी शरारतों के बारे में ही रही हूँ. लेकिन जो शब्द मैं लिख रही हूँ, उससे कहीं अधिक महत्व इस पेंसिल का है, जो मैं इस्तेमाल कर रही हूँ…

साक्षात्कार शिक्षाप्रद कहानी | The Interview Moral Story In Hindi

एक युवक ने एक बड़ी कंपनी में मैनेजर की पोस्ट के लिए आवेदन किया. प्रारंभिक परीक्षा और पैनल का साक्षात्कार उत्तीर्ण करने के बाद उसे अंतिम साक्षात्कार के लिए कंपनी के डायरेक्टर के समक्ष उपस्थित होना था. डायरेक्टर ने युवक की CV देखी. उस युवक की शैक्षणिक योग्यता बहुत अच्छी थी. स्कूल से लेकर पोस्टग्रेजुएशन तक ऐसा कोई भी …..

चाय का कप नैतिक कथा | Cup Of Tea Moral Story In Hindi

एक बार कॉलेज के भूतपूर्व छात्रों का group अपनी यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर से मिलने पहुँचा. सभी काफी अरसे बाद मिल रहे थे. इन अरसों में सभी छात्र अपने-अपने करियर में बहुत अच्छी position हासिल कर चुके थे. सबके बीच बातों का सिलसिला प्रारंभ हुआ, जो बढ़ते-बढ़ते ज़िन्दगी और job की परेशानियों की ओर घूम गया. अब ये बातें न रह कर शिकायतें बन गई थी.

तीन तरह के लोग : शिक्षाप्रद कहानी | Three Types Of People Moral Story In Hindi

एक दिन शिक्षक ने कक्षा में छात्रों को प्लास्टिक के तीन गुड्डे दिखाये और उनसे उन तीनों में अंतर ढूंढने को कहा. तीनों गुड्डे एक ही मटेरियल के बने थे और रचना तथा आकार में भी एक जैसे थे. सभी छात्र सोच में पड़ गए. शिक्षक ने उनमें से एक छात्र को सामने बुलाया और उसे ध्यान से गुड्डों को देखने के लिए कहा. छात्र ने जब बहुत ध्यान से उन तीनों गुड्डों को देखा, तो पाया कि उनमें छेद बने हुए हैं.

जीवन का दर्पण : Motivational Story In Hindi

जीवन का दर्पण Motivational Story In Hindi   एक दिन ऑफिस के सारे कर्मचारी जब ऑफिस पहुँचे, तो उन्होंने दरवाजे पर एक पर्ची चिपकी हुई देखी. जिस पर लिखा हुआ था […]