मैं तो जानता हूँ…..प्रेम कहानी

Mai To Janta Hoon Love Story In Hindi

 

Mai To Janta Hoon Love Story In Hindi

Mai To Janta Hoon Love Story In Hindi

सुबह के ८:३० बजे थे. ठीक उसी समय लगभग ८० वर्ष के एक वृद्ध व्यक्ति ने अस्पताल में कदम रखा. वह जल्दी में लग रहा था.

उसकी हड़बड़ी देख अपनी नाईट शिफ्ट ख़त्म कर वापसी लौट रही एक नर्स ने जिज्ञासावश पूछ लिया, “सर, क्या आपका किसी डॉक्टर से अपॉइंटमेंट है?”

वृद्ध व्यक्ति ने उत्तर दिया, “नहीं सिस्टर! मैं तो यहाँ अपनी पत्नि से मिलने आया हूँ. उसे अल्झाइमर है और वह यहाँ भर्ती है. ९ बजे मुझे उसके साथ नाश्ता करना है.”

“ओह, तो क्या आपके देर से पहुँचने पर वो नाराज़ हो जायेंगी.”

“नहीं, उसने तो मुझे पिछले ५ सालों से पहचाना ही नहीं है.” वृद्ध की आँखों में उसके ह्रदय में उठ रही टीस की झलक थी.

“इसके बाद भी आप उनसे मिलने रोज़ यहाँ आते है, जबकि वह ये भी नहीं जानती कि आप कौन है.”

वृद्ध ने मुस्कुराते हुए उत्तर दिया, “तो क्या हुआ? मैं तो जानता हूँ कि वो कौन है.”

 

आप पढ़ रहे थे – “Mai To Janta Hoon Love Story In Hindi” . इन Hindi Stories को भी अवश्य पढ़ें :

¤ Salty Coffee Love Story In Hindi नमकीन कॉफ़ी प्रेम कहानी 

¤ Beautiful Love Story In HIndi खूबसूरत प्रेम कहानी

¤ A Soldier’s Heart Touching Story In Hindi एक सैनिक की दिल को छूने वाली कहानी

¤ Love & Time Short Moral Story In Hindi प्यार और समय लघु नैतिक कथा 

¤ Choice Heart Touching Story In Hindi तरजीह दिल को छूने वाली कहानी

¤ Change Your Strategy Motivational Story In Hindi अपनी रणनीति बदलिये प्रेरणादायक कहानी 

¤ जीवन का दर्पण प्रेरणादायक कहानी

दोस्तों, आपको “Mai To Janta Hoon Love Story In Hindi” कैसी लगी? आप अपने comments के माध्यम से हमें बता सकते है. धन्यवाद्.
Posted in Love Story and tagged , .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *