किसान और गधा : बाल कथा

Former And The Donkey Story For Kids In Hindi


Former And The Donkey Story For Kids In Hindi

Former And The Donkey Story For Kids In Hindi

एक किसान गधा खरीदने बाज़ार गया. बाज़ार में उसने कई गधे देखे. उसमें से एक गधा उसे पसंद आ गया. लेकिन वह उसे परखे बिना खरीदना नहीं चाहता था.

उसने गधे के मालिक से पूछा, “क्या मैं यह गधा एक दिन के लिए अपने घर ले जा सकता हूँ? मैं परखना चाहता हूँ कि ये मेरे काम का है या नहीं?

गधे का मालिक बिना किसी बहस के राज़ी हो गया. किसान गधे को लेकर अपने घर की ओर चल पड़ा. घर पहुँचकर उसे अस्तबल में अन्य गधों के साथ रख वह खेत चला गया.

अस्तबल में नए गधे ने पुराने गधों को कुछ देर तक देखा और उन्हें देखकर सिर हिलाया. फिर कुछ देर अस्तबल में इधर-उधर घूमने के बाद वह वहाँ के सबसे लालची और आलसी गधे के पास जाकर बैठ गया.

कुछ देर बाद किसान खेत से वापस आया और सीधा अस्तबल पहुँचा. वहाँ उसने नये गधे को देखा. उसे देखते ही उसने उसके गले में रस्सी बांधी और बाज़ार वापस आकर उसे उसके मालिक को वापस करने लगा.

आश्चर्यचकित होकर गधे के मालिक ने पूछा, “क्या हुआ? आप इतनी जल्दी वापस आ गए? आपने इसे अच्छी तरह परखा भी है या नहीं? मुझे तो लगता है आपने इसे पूरा अवसर नहीं दिया.”

इस पर किसान ने शांति से उत्तर दिया, “इस गधे ने अस्तबल में सबसे लालची और आलसी गधे के साथ बैठने का चुनाव किया. अब परखने को बाकी क्या रह जाता है? किसी की संगति से उसकी पहचान होती है. इस गधे की भी पहचान हो गई है.”

सीख –  जैसा चरित्र वैसी संगति.


Friends, यदि आपको “Former And The Donkey Story For Kids In Hindi” पसंद आई हो, तो आप इसे Share कर सकते है. कृपया अपने comments के माध्यम से बताएं कि आपको यह कहानी कैसी लगी. नई post की जानकारी के लिए कृपया subscribe करें. धन्यवाद.

Read More Hindi Stories :

¤ लालची कुत्ता : बाल कथा 

¤ सत्रह ऊँट और तीन पुत्र : प्रेरणादायक कहानी

¤ सुंदरी और राक्षस : परी कथा 

¤ सोई हुई राजकुमारी : परी कथा 

Posted in Moral Story, Story For Kids In Hindi and tagged , , .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *