दर्जी की सीख : शिक्षाप्रद कहानी | Darji Ki Seekh Moral Story In Hindi

एक गाँव में एक लड़का रहता था. उसके पिता दर्जी थे. एक दिन स्कूल की जल्दी छुट्टी हो जाने पर वह अपने पिता की दुकान पर चला गया. वहाँ पहुँचकर वह एक कोने में बैठ गया और बड़े ही ध्यान से अपने पिता को कपड़े सीते हुए देखने लगा. उसने देखा कि उसके पिता ने पहले कैंची से कपड़े को काटा और फिर कैंची को अपने पैर के नीचे दबा कर रख लिया.

प्यासा कौआ : बाल कथा  | The Thirsty Crow Story For Kids In Hindi

गर्मियों के दिन थे. एक प्यासा कौआ पानी की तलाश में यहाँ-वहाँ भटक रहा था. किंतु कई जगहों पर भटकने के बाद भी उसे पानी नहीं मिला. लगातार उड़ते रहने के कारण वह बहुत थक गया था और तेज गर्मी में उसकी प्यास बढ़ती जा रही थी. धीरे-धीरे वह अपना धैर्य खोने लगा. उसे लगने लगा कि आज उसकी मृत्यु निश्चित है.

मेंढक और चूहा : बाल कथा | The Frog And The Rat Story For Kids In Hindi

एक समय की बात है. एक जलाशय में एक मेंढक रहता था. उसके कोई मित्र नहीं थे, इसलिए वह बहुत उदास रहा करता था. वह हमेशा भगवान से एक अच्छा मित्र भेजने की प्रार्थना करता, ताकि उसकी उदासी और अकेलापन दूर हो सके. उस जलाशय के पास ही एक पेड़ के नीचे बिल में एक चूहा रहता था. वह बहुत ही हँसमुख स्वभाव का था. एक दिन मेंढक को देखकर वह उसके पास गया और बोला, “मित्र, कैसे हो तुम?”

बंदर और टोपीवाला : बाल कथा | The Monkey And The Hat Seller Story For Kids In Hindi

एक समय की बात है. एक गांव में एक आदमी रहता था. वह टोपी बेचकर अपनी गुजर-बसर करता था. एक बड़ी सी टोकरी में रंग-बिरंगी टोपियाँ लेकर वह रोज़ सुबह घर से निकल जाता और गांव-गांव जाकर बेचा करता था. एक दिन वह एक गांव में टोपियां बेचकर दूसरे गांव जा रहा था. रास्ते में उसे बरगद का एक पेड़ दिखा. दोपहर का समय था और वह थका हुआ था. इसलिए सुस्ताने के लिए उस पेड़ की छांव में बैठ गया.

अंगूर खट्टे हैं : बाल कथा | The Grapes Are Sour Story For Kids In Hindi

एक घने जंगल में एक लोमड़ी रहती थी. एक दिन पूरा जंगल छान मारने के बाद भी उसे कोई शिकार नहीं मिला. वह थक कर चूर थी और भूख के मारे उसका बुरा हाल था. भटकते-भटकते वह जंगल से सटे एक गाँव पहुँच गई. वहाँ उसने एक खेत देखा. वह चुपके से खेत में घुस गई. उस समय खेत का स्वामी खेत पर नहीं था.

किसान और गधा : बाल कथा | Former And The Donkey Story For Kids In Hindi

एक किसान गधा खरीदने बाज़ार गया. बाज़ार में उसने कई गधे देखे. उसमें से एक गधा उसे पसंद आ गया. लेकिन वह उसे परखे बिना खरीदना नहीं चाहता था. उसने गधे के मालिक से पूछा, “क्या मैं यह गधा एक दिन के लिए अपने घर ले जा सकता हूँ? मैं परखना चाहता हूँ कि ये मेरे काम का है या नहीं?

लालची कुत्ता : बाल कथा | Greedy Dog Story For Kids In Hindi

एक कुत्ता भूख के मारे दर-दर भटक रहा था. एक कसाई को उस पर दया आ गई और उसने उसे मांस का एक छोटा सा टुकड़ा दे दिया. कुत्ता बड़ा खुश हुआ और मांस के टुकड़े को मुँह में दबाकर गाँव के बाहर जंगल की ओर भागा. रास्ते में एक नदी पड़ती थी. कुत्ता उस पर बने पुल पर चढ़ गया. पुल को पार करते समय उसने नीचे देखा. वहाँ उसे एक और कुत्ता दिखाई पड़ा. उस कुत्ते के मुँह में भी मांस का टुकड़ा था.

तस्वीर : शिक्षाप्रद कहानी | Tasweer Moral Story In Hindi

एक शहर में एक चित्रकार रहता था. उसकी बनाई हुई तस्वीरें बहुत खूबसूरत हुआ करती थी. एक दिन उसने एक बहुत ही खूबसूरत तस्वीर बनाई और उसे ले जाकर शहर के चौराहे पर टांग दिया. तस्वीर के नीचे उसने लिख दिया कि इस तस्वीर में यदि कोई कमी दिखाई पड़े, तो उस जगह निशान लगा दे. तस्वीर वहीं छोड़कर वह चला गया.

बुरी आदतें शिक्षाप्रद कहानी | Bad Habits Moral Story In Hindi

एक गाँव में एक धनी व्यक्ति अपनी पत्नि और १० वर्ष के पुत्र के साथ रहता था. उसका पुत्र जैसे-जैसे बड़ा होता रहा था, उसमें बुरी आदतें घर करती जा रही थी. समझाने पर वह कहता कि अभी तो मैं छोटा हूँ. जब बड़ा हो जाऊँगा, तो सब छोड़ दूंगा. समझाने का असर न होता देख वह व्यक्ति अपने पुत्र को लेकर गाँव में पधारे एक महात्मा के पास पहुँचा. उसने उन्हें अपनी समस्या बताई और अपने पुत्र को सही मार्ग पर वापस लाने की प्रार्थना की.

एक लोटा दूध : शिक्षाप्रद कहानी | Ek Lota Doodh Moral Story In Hindi

बहुत पुरानी बात है. एक हरा-भरा और खुशहाल गाँव था. वहाँ हमेशा हरियाली छाई रहती थी. लेकिन एक बार वहाँ भयंकर सूखा पड़ गया. कई दिनों से बारिश नहीं होने के कारण खेत-खलिहान सूखने लगे. पानी की कमी से मवेशी और गाँव के लोग मरने लगे. चारों ओर हाहाकार मच गया. गाँव वालों ने बारिश की बहुत बाट जोही. लेकिन बारिश मानो उस गाँव का रास्ता ही भूल गई थी.

क्रोधी बालक शिक्षाप्रद कहानी | The Angry Boy Moral Story in Hindi

एक गाँव में एक लड़का अपने माता-पिता के साथ रहता था. एकलौती संतान होने के कारण वह माता-पिता का बहुत लाड़ला था. उसके माता-पिता उसे चाहते तो बहुत थे, लेकिन उसकी एक आदत के कारण हमेशा परेशान रहते थे. वह लड़का बहुत क्रोधी स्वभाव का था. उसे छोटी-छोटी बातों पर क्रोध आ जाता था और वह तैश में आकर लोगों को भला-बुरा कह देता था.

सड़े आलू शिक्षाप्रद कहानी | Rotten Potatoes Moral Story In Hindi

एक दिन कक्षा में शिक्षक ने घोषणा की कि अगले दिन सभी विद्यार्थियों को एक थैले में आलू लेकर आना है. यह एक तरह का खेल होगा, जिसमें सब अपने साथ लाये आलुओं को उस लड़के या लड़की का नाम देंगे, जिससे वे सबसे ज्यादा नफ़रत करते हैं.

अभिमान अच्छा नहीं शिक्षाप्रद कहानी | Abhiman Achchha Nahin Moral Story In Hindi

एक व्याकरण का पंडित नाव में बैठकर नदी पार कर रहा था. अपने व्याकरण के ज्ञान पर उसे बड़ा अभिमान था. वह जिससे भी मिलता, उसके समक्ष अपने ज्ञान का बखान कर उसे नीचा दिखाने का प्रयास किया करता था.

गुणवान पुत्र शिक्षाप्रद कहानी | Gunwan Putra Moral Story In Hindi

पनघट पर चार औरतें पानी भरने आई. पानी भरते हुए वे एक-दूसरे से बातें करने लगी. बातों-बातों में उन्होंने अपने बेटों के गुणों का बखान करना प्रारंभ कर दिया. पहली औरत बोली, “मेरा बेटा बहुत सुरीली बांसुरी बजता है. जो भी उसकी बांसुरी सुनता है, मंत्रमुग्ध हो जाता है.”

सबसे खुश पक्षी प्रेरणादायक कहानी | The Happiest Bird Moral Story In Hindi

The Happiest Bird Moral Story In Hindi सबसे खुश पक्षी प्रेरणादायक कहानी एक कौवा एक वन में रहा करता था. उसे कोई कष्ट नहीं था और वह अपने जीवन से […]