Bad Habits Moral Story In Hindi

बुरी आदतें : शिक्षाप्रद कहानी


Bad Habits Moral Story In Hindi

Bad Habits Moral Story In Hindi

एक गाँव में एक धनी व्यक्ति अपनी पत्नि और १० वर्ष के पुत्र के साथ रहता था. उसका पुत्र जैसे-जैसे बड़ा होता रहा था, उसमें बुरी आदतें घर करती जा रही थी. समझाने पर वह कहता कि अभी तो मैं छोटा हूँ. जब बड़ा हो जाऊँगा, तो सब छोड़ दूंगा.

समझाने का असर न होता देख वह व्यक्ति अपने पुत्र को लेकर गाँव में पधारे एक महात्मा के पास पहुँचा. उसने उन्हें अपनी समस्या बताई और अपने पुत्र को सही मार्ग पर वापस लाने की प्रार्थना की.

महात्मा उन दोनों को एक उद्यान में लेकर गया और टहलते-टहलते उनसे बातें करने लगा. एक स्थान पर पहुँचकर वहाँ लगे छोटे-छोटे पौधों में से एक छोटे पौधे की ओर इशारा कर उसने धनी व्यक्ति के पुत्र से कहा, “बेटा, इस पौधे को जमीन से उखाड़कर तो दिखाओ.”

बच्चे ने अपने अंगूठे और तर्जनी से उस पौधे को पकड़ा और खींचकर उसे उखाड़ दिया. उसके बाद महात्मा ने एक थोड़े बड़े पौधे को दिखाकर उसे उखाड़ने को कहा. बच्चे ने जोर लगाकर खींचा और वह पौधा जड़ सहित बाहर निकल आया.

कुछ दूर आगे जाने के बाद महात्मा ने एक झाड़ी की ओर संकेत कर बच्चे से कहा, “अब इसे उखाड़ कर दिखाओ.”

बच्चे को इसमें मज़ा आने लगा था. वह तुरंत झाड़ी के पास पहुँचा और सारी ताकत लगाकर उसे उखाड़ने लगा. थोड़े प्रयासों के उपरांत उसने झाड़ी को उखाड़ फेंका.

फिर एक बड़े पेड़ को दिखाकर महात्मा ने उसे उखाड़ने को कहा. बच्चे ने आगे बढ़कर पेड़ के तने को पकड़ लिया और जोर लगाकर उसे उखाड़ने का प्रयास करने लगा. किंतु वह उसे हिला भी न सका. अंत में थककर चूर होकर वह बोला, “इसे उखाड़ना तो असंभव है गुरुवर.”

तब महात्मा ने कहा, “सही कहा बेटा. बुरी आदतें भी ऐसी ही होती हैं. नई होती हैं, तो आसानी से छूट जाती है. किंतु जैसे-जैसे समय बीतता जाता है, वे हमारे अंदर जड़ें जमाने लगती हैं. ऐसे में उन्हें छोड़ना बहुत मुश्किल हो जाता है. इसलिए बुरी आदतों को उनकी प्रारंभिक अवस्था में ही छोड़ देना चाहिए.”

महात्मा की इस सीख ने लड़के का जीवन बदल दिया और उसने अपनी सारी बुरी आदतें छोड़ दी.

सीख – बुरी आदतों को अपने अंदर मत पनपने दो. जब वह आपके नियंत्रण में हो, उसे उसी समय छोड़ दो. अन्यथा वह आप पर नियंत्रण कर लेगी.

Read :

¤ पेंसिल के गुण : शिक्षाप्रद कहानी

Posted in Moral Story and tagged , .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *