लालची कुत्ता : बाल कथा | Greedy Dog Story For Kids In Hindi

एक कुत्ता भूख के मारे दर-दर भटक रहा था. एक कसाई को उस पर दया आ गई और उसने उसे मांस का एक छोटा सा टुकड़ा दे दिया. कुत्ता बड़ा खुश हुआ और मांस के टुकड़े को मुँह में दबाकर गाँव के बाहर जंगल की ओर भागा. रास्ते में एक नदी पड़ती थी. कुत्ता उस पर बने पुल पर चढ़ गया. पुल को पार करते समय उसने नीचे देखा. वहाँ उसे एक और कुत्ता दिखाई पड़ा. उस कुत्ते के मुँह में भी मांस का टुकड़ा था.

व्याख्या : अल्बर्ट आइंस्टीन का प्रेरक प्रसंग | Explanation Albert Einstein Prerak Prasang

अल्बर्ट आइंस्टीन एक महान वैज्ञानिक थे. भौतिक विज्ञान के क्षेत्र में किये गए महान कार्यों के कारण उन्हें आधुनिक भौतिक विज्ञान का जन्मदाता कहा जाता है. विज्ञान में रूचि रखने वाले लोग अक्सर मार्गदर्शन प्राप्त करने उनके पास आया करते थे और आइंस्टीन बड़े ही सरल शब्दों में उनके सारे प्रश्नों का उत्तर दिया करते थे.

सत्रह ऊँट और तीन पुत्र : प्रेरणादायक कहानी | Seventeen Camels And Three Sons Motivational Story In Hindi

रेगिस्तानी इलाके में स्थित एक गाँव में एक वृद्ध व्यक्ति अपने तीन पुत्रों के साथ रहता था. उसके पास १७ ऊँट थे. एक दिन उस वृद्ध की मृत्यु हो गई. अपनी लिखी वसीयत में उसने अपनी संपत्ति के साथ–साथ १७ ऊँटों का भी अपने पुत्रों के मध्य बंटवारा किया था. संपत्ति तो बराबर-बराबर सभी पुत्रों में बांट दी गई. लेकिन ऊँटों की संख्या १७ थी, जो एक विषम और अभाज्य संख्या है. इसलिए उसका बराबर बंटवारा संभव नहीं था.

मौत का सौदागर : अल्फ्रेड नोबेल का प्रेरक प्रसंग | Merchant Of Death Afred Nobel Prerak Prasang

यह वाक्या १८८८ का है. सुबह-सुबह एक व्यक्ति अखबार पढ़ रहा था. अखबार पढ़ते-पढ़ते अचानक उसकी नज़र “शोक-संदेश” के कॉलम पर पड़ी. अपना नाम वहाँ देखकर वह हैरान रह गया. गलती से अख़बार ने उसके भाई लुडविग के स्थान पर उसके निधन का समाचार प्रकाशित कर दिया था.

तस्वीर : शिक्षाप्रद कहानी | Tasweer Moral Story In Hindi

एक शहर में एक चित्रकार रहता था. उसकी बनाई हुई तस्वीरें बहुत खूबसूरत हुआ करती थी. एक दिन उसने एक बहुत ही खूबसूरत तस्वीर बनाई और उसे ले जाकर शहर के चौराहे पर टांग दिया. तस्वीर के नीचे उसने लिख दिया कि इस तस्वीर में यदि कोई कमी दिखाई पड़े, तो उस जगह निशान लगा दे. तस्वीर वहीं छोड़कर वह चला गया.

माँ का प्यार : दिल को छूने वाली कहानी | Mother’s Love Heart Touching Story In Hindi

माँ रसोई में काम कर रही थी. तभी उसका १० वर्ष का बेटा उसके पास आया और बिना कुछ कहे एक काग़ज़ का टुकड़ा आगे बढ़ा दिया. माँ के हाथ गीले थे. पहले उसने अपने हाथ पोंछे, फिर उस काग़ज़ को लेकर पढ़ने लगी. उस पर लिखा था : लॉन की घास काटने के – २० रुपये

एक गिलास दूध : डॉ. हॉवर्ड केली का प्रेरक प्रसंग | A Glass Of Milk Dr Howard Kelly Prerak Prasang

एक गरीब लड़का अपनी पढ़ाई का खर्च निकालने के लिए घर-घर जाकर सामान बेचा करता था. एक बार पूरा दिन बीत जाने पर भी उसका एक भी सामान नहीं बिका. शाम हो आई थी और उसे जोरों की भूख लगने लगी थी. लेकिन उसके पास पैसे नहीं थे कि वह कुछ खरीद कर खा सके. उसने सोचा कि अब अगला जो भी घर होगा, वहाँ वह खाना मांग लेगा.

बीरबल की खिचड़ी : अकबर बीरबल की कहानियाँ | Birbal Ki Khichadi Akbar Birbal Story In Hindi

एक रात बादशाह अकबर अपने दरबारियों को साथ लेकर सैर पर निकले. सैर करते हुए वे सभी यमुना नदी के तट पर पहुँच गए. वह ठंड का मौसम था. दिल्ली में भी कड़ाके की ठंड पड़ रही थी. यमुना के सामानांतर टहलते हुए अचानक ही जाने बादशाह अकबर को क्या सूझा कि उन्होंने अपनी एक उंगली यमुना के ठंडे पानी में डाल दी.

पंडित जवाहरलाल नेहरू के सर्वश्रेष्ठ विचार | Pt Jawaharlal Nehru Best Quotes In Hindi

भागने वाला व्यक्ति शांत बैठे व्यक्ति की तुलना में खुद को उस खतरे में ज्यादा डालता है. – पंडित जवाहरलाल नेहरु
एक क्षण आता है, जो आता तो है किंतु इतिहास में बहुत ही कम, जब हम पुराने को छोड़ नए की तरफ जाते हैं; जब एक युग का अंत होता है; और जब वर्षों से शोषित एक देश की आत्मा को अभिव्यक्ति प्राप्त होती है. – पंडित जवाहरलाल नेहरु

दीपक चोपड़ा के अनमोल विचार | Deepak Chopra Quotes In Hindi

इस क्षण आपने अपने जीवन में जो भी संबंध आकर्षित किये हैं, निश्चित रूप से ये वो है, जिनकी इस क्षण आपके जीवन में आवश्यकता है. हर घटना के पीछे एक गुप्त अर्थ है, और यह गुप्त अर्थ आपके स्वयं के विकास में सहायक है. – दीपक चोपड़ा

हमारी सोच और हमारा व्यवहार हमेशा किसी प्रतिक्रिया के पूर्वानुमान होते हैं. इसलिए ये डर पर आधारित होते हैं. – दीपक चोपड़ा

जादुई खिड़की : बाल कथा | The Magic Window Story For Kids In Hindi

एक शहर में एक छोटा बच्चा अपने माता-पिता के साथ रहता था. एक बार वह बहुत बीमार पड़ गया. उसकी तबियत इतनी ख़राब थी कि उसे अपना अधिकांश समय बिस्तर पर ही बिताना पड़ता था. दूसरे बच्चों को भी उससे मिलने की मनाही थी, इसलिए वह बहुत उदास रहा करता था. पूरा दिन वह उदासी और अकेलेपन में गुजारता था.

इन चीज़ों को फ्रिज़ में न रखे | Never Keep These Things In The fridge

अक्सर खाने-पीने की चीज़ों को ख़राब होने से बचाने के लिये उन्हें फ्रिज़ में रख दिया जाता हैं. लेकिन क्या आप जानते है कि कई खाद्य पदार्थों को फ्रिज़ में रखने से उन पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है. इससे न सिर्फ़ वे ख़राब हो जाते है, बल्कि स्वास्थ्य संबंधी समस्यायें भी उत्पन्न कर सकते है. इसलिए खाने-पीने की चीज़ें सोच-समझकर ही फ्रिज़ में रखनी चाहिए.

मिलियन डॉलर पेंटिंग : पाब्लो पिकासो का प्रेरक प्रसंग | Million Dollar Painting Pablo Picasso Prerak Prasang

Million Dollar Painting Pablo Picasso Prerak Prasang मिलियन डॉलर पेंटिंग : पाब्लो पिकासो का प्रेरक प्रसंग यह प्रेरक प्रसंग स्पेन के महान चित्रकार पाब्लो पिकासो का है. एक दिन एक […]

कैसे बना दिल्ली के बिड़ला मंदिर में फोटो खींचने वाला ६५०० करोड़ की कंपनी का मालिक? | Intex Founder Narendra Bansal Success Story In Hindi

जो शख्स कभी दिल्ली के बिड़ला मंदिर में फोटो खींचकर उसे चाभी के छल्ले में चिपकाकर बेचा करता था, आज भारत की दूसरी सबसे बड़ी मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग कंपनी का मालिक है. ये हैं, Intex Technologies के संस्थापक और CMD नरेन्द्र बंसल की, जिन्होंने मात्र २०००० रुपये में अपनी कंपनी प्रारंभ की और उसे अपनी दूरदृष्टि, व्यवसायिक गुर और कड़ी मेहनत से ६५०० करोड़ रुपये की कंपनी में तब्दील कर दिया.

फ़रिश्ता : दिल को छूने वाली कहानी | The Angel Heart Touching Story In Hindi

जन्म के पूर्व बच्चे के मन में कई शंकायें थी. उनके समाधान के लिए वह भगवान के पास गया और कहने लगा, “ईश्वर! आप मुझे धरती पर भेज रहे हैं. लेकिन देखिये ना, मैं कितना छोटा हूँ. अपने आप तो मैं अपना ध्यान भी नहीं रख सकता. अब आप ही बताइए कि मैं वहाँ कैसे रहूँगा?”